अमृतसर में दो आतंकी गिरफ्तार, हिजबुल कमांडर नाइकू के करीबी हलाल अहमद के साथी, NIA के हवाले

अमृतसर/चंडीगढ। गुरुनगरी अमृतसर में दो आतंकियों को गिरफ्तार किया गया है। यह गिरफ्तारी 25 अप्रैल को गिरफ्तार किए गए हिज्बुल मुजाहिदीन के आतंकी हिलाल अहमद वागे के कबूलनामा के बाद की गई है। दोनों आतंकी हिजबुल मुजाहिदीन के कमांडर रियाज अहमद नाइकू के करीबी हिलाल अहमद वागे के साथी हैं।उनको केंद्रीय जांच एजेंसी एनआइए के हवाले कर दिया गया है। अमृतसर में दो आतंकियाें की गिरफ्तारी से हड़कंप मच गया। बताया जाता है कि दोनों को एनआइए के हवाले किया गया है। उनसे एक किलो हेरोइन, 32 लाख रुपये बरामद किए गए हैं।

एनआइए के हवाले किए गए, हिलाल अहमद से पूछताछ के आधार पर हुई गिरफ्तारी

कश्मीर में सुरक्षा बलों द्वारा बुधवार को मारे गए हिजबुल मुजाहिदीन के कमांडर रियाज अहमद नाइकू के नजदीकी हिलाल अहमद वागे के इन दो साथियों को पंजाब पुलिस ने देर शाम गिरफ्तार किया गया है। पंजाब के डीजीपी दिनकर गुप्ता ने बताया कि कश्मीर में सुरक्षा बलों द्वारा बुधवार को मारे गए हिजबुल मुजाहिदीन के कमांडर रियाज अहमद नायकू के नजदीकी हिलाल अहमद वागे के दो साथी पुलिस ने गिरफ्तार किए हैैं।

अमृतसर से पकड़े आतंकी एनआइए के हवाले किए, उनसे एक किलो हेरोइन, 32 लाख रुपये बरामद

डीजीपी दिनकर गुप्ता ने बताया कि पिछले महीने गिरफ्तार किए गए हिलाल अहमद से हुई पूछताछ के बाद अमृतसर के गुरु रामदास एवेन्यू के रहने वाले बिकरम सिंह उर्फ विक्की और उसके साथी मनिंदर सिंह उर्फ मनी को गिरफ्तार किया गया है।

आरोपित अपने चचेरे भाइयों के साथ मिलकर सीमा पार से करवाते थे ड्रग्स और हथियारों की तस्करी

डीजीपी गुप्ता के अनुसार वीरवार को गिरफ्तार किए गए इन आतंकियों से एक किलो हेरोइन, 32 लाख रुपये नगद बरामद हुए हैैं। बिकरम सिंह उर्फ विक्की ही स्कूटी पर हिलाल अहमद को 29 लाख रुपये देने गया था। वह यह काम अपने चचेरे भाइयों रंजीत सिंह उर्फ चीता, इकबाल सिंह उर्फ शेरा और सरवन सिंह के कहने पर कर रहा था। बिकरम और मनिंदर ने पूछताछ में यह भी कहा कि वह अपने चचेरे भाइयों के साथ मिलकर सीमापार से ड्रग्स और हथियारों की स्मगलिंग करते हैं। पुलिस अब रंजीत सिंह उर्फ चीता, इकबाल सिंह उर्फ शेरा और सरवन सिंह की तलाश कर रही है।

डीजीपी ने बताया कि हिजबुल मुजाहिदीन कमांडर रियाज अहमद नाइकू के निर्देश पर हिलाल अहमद वागे पिछले महीने अमृतसर आया था। उसे धन इकट्ठा करने की जिम्मेदारी सौंपी गई थी। परंतु उसे 25 अप्रैल को पंजाब पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। पूछताछ में उससे जो जानकारियां मिलीं उन्हें केंद्र सरकार और कश्मीर की एजेंसियों के साथ साझा किया गया है।

दो अन्‍य नशा तस्‍करों की तलाश

सुरक्षा एजेंसी के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि रंजीत सिंह और सरवन सिंह के नाम के तस्करों की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी की जा रही हैl पता चला है कि यह दोनों तस्कर पाकिस्तान से हेरोइन और हथियारों की कंसाइनमेंट मंगवा रहे हैंl अगर पुलिस की जांच सही दिशा में चलती रही तो आने वाले दिनों में पाकिस्तान से हेरोइन और हथियार मंगवाने वाले एक बड़े गिरोह की धरपकड़ हो सकती हैl इसके साथ ही पंजाब के तस्करों के जम्मू कश्मीर में एक्टिव आतंकी संगठनों से संबंध होने के भी बड़े खुलासे होंगेl

Post a comment

0 Comments