MSME के लिए राहत पैकेज का ऐलान आज संभव, मिल सकती है 3 लाख करोड़ की लोन गारंटी

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण आज सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यमों (MSME) के लिए आर्थिक पैकेज का ऐलान कर सकती हैं. यह 20 लाख करोड़ के उसी राहत पैकेज का हिस्सा होगा, जिसका ऐलान कल प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने किया था. सरकार 3 लाख करोड़ से अधिक के एमएसएमई ऋण के लिए गारंटी की घोषणा कर सकती है.

ये है तैयारी

बताया जा रहा है कि केंद्र सरकार, सूक्ष्म-लघु-मध्यम उद्यमों (MSME) को अपना कारोबार चलाते रहने के लिए नकदी प्रवाह करने की उन्हें पर्याप्त नकदी की व्यवस्था करने की योजना बना रही है. इसके साथ ही सरकार एमएसएमई को ऋण देने के लिए बैंकों को प्रोत्साहित करने के लिए अपनी गारंटी देने की भी योजना बना रही है.

पीएम ने किया था ऐलान

गौरतलब है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कोरोना संकट के दोर में इकोनॉमी को सहारा देने के लिए 20 लाख करोड़ रुपये के तगड़े बूस्टर डोज का ऐलान किया है. मंगलवार को राष्ट्र के नाम अपने संबोधन में पीएम मोदी ने बताया कि इस पैकेज देश की इकोनॉमी को सहारा मिलेगा और दुनिया में भारत नेतृत्व करने की क्षमता हासिल कर सकेगा. पीएम ने कई सेक्टर में बोल्ड सुधारों का ऐलान किया है. पीएम ने कृषि से लेकर इन्फ्रास्ट्रक्चर, टैक्स तक सभी सेक्टर में सुधारों का ऐलान किया.

क्या कहा था पीएम ने

पीएम मोदी ने कहा था, 'आर्थिक पैकेज भारतीय उद्योग जगत के लिए है जो भारत के आर्थिक सामर्थ्य को बुलंदी देने के लिए संकल्पित हैं. कल से शुरू करके, आने वाले कुछ दिनों तक, वित्त मंत्री जी द्वारा आपको 'आत्मनिर्भर भारत अभियान' से प्रेरित इस आर्थिक पैकेज की विस्तार से जानकारी दी जाएगी.'

कोरोना महामारी की वजह से देश की इकोनॉमी पस्त नजर आ रही है. इस हालात से निपटने के लिए सरकार की ओर से तमाम उपाय किए गए हैं. सरकार ने प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के तहत 1.70 लाख करोड़ के राहत पैकेज का भी ऐलान किया है. हालांकि, अब भी छोटी या बड़ी इंडस्ट्री को कुछ खास नहीं मिला है.

यही वजह है कि देश के इकोनॉमी में अहम भूमिका निभाने वाले एमएसएमई सेक्टर यानी सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्योग भी राहत पैकेज की उम्मीद कर रहे हैं. क्या इस सेक्टर को राहत पैकेज मिल सकता है? आजतक के e-एजेंडा मे इस सवाल के जवाब में एमएसएमई मंत्री नितिन गडकरी ने कहा था कि राहत पैकेज के बारे में वित्त मंत्रालय फैसला लेगा. उन्होंने कहा,' पैकेज देना वित्त मंत्री का अधिकार है. हमने उन्हें अपने सारे सुझाव दे दिए हैं. उम्मीद है कि जल्द MSME सेक्टर को राहत मिलेगी. मैं हर स्तर पर अध्ययन कर रहा हूं. हम इससे संबंधित लोगों से बातचीत कर रहे हैं. हमने अपने जरूरी सुझाव उचित स्थान पर पहुंचा दिए हैं.'

Post a comment

0 Comments