DGP गुप्तेश्वर पांडेय का बड़ा बयान, बिहार में कहीं ग्रीन जोन नहीं, शाम 7 से सुबह 7 बजे तक होगा कर्फ्यू

पटना. जहां पूरा देश इन दिनों कोरोनावायरस (COVID-19) की मार झेल रहा है, बिहार (Bihar) भी इस महामारी से अछूता नहीं है. राज्य में लगातार बढ़ रहे कोरोना के मामलों को देखते हुए पुलिस महानिदेशक (डीजीपी) गुप्तेशवर पांडेय का बयान सामने आया है. रविवार को उन्होंने कहा कि बिहार में कहीं भी ग्रीन जोन (Green Zone) नहीं है. पूरे राज्य में या तो रेड या फिर ऑरेंज जोन हैं. जबकि केंद्र सरकार ने बिहार के पांच जिलों को रेड जोन, 20 जिले को ऑरेंज जोन और 13 जिलों को ग्रीन जोन की सूची में रखा है.

कर्फ्यू जैसी सख्ती बरती जाएगी

डीजीपी पांडेय ने आगे कहा कि राज्य में पूरी तरह से लॉकडाउन लागू है और जो भी इसे तोड़ने की कोशिश करेगा पुलिस उसके खिलाफ कड़ी कार्रवाई करेगी. पुलिस शाम सात बजे से लेकर सुबह सात बजे तक कर्फ्यू जैसी सख्ती बरतेगी. यहां तक कि जिन्हें पास मिले हैं उन वाहनों के परिचालन पर भी रोक होगी.

बिहार के 30 जिले कोरोना से प्रभावित
बता दें कि बिहार में बीते 22 मार्च को कोरोना वायरस संक्रमण का पहला मामला आया था. सूबे के 39 जिलों में से अभी तक 30 जिले कोरोना से प्रभावित हो चुके हैं. मुंगेर में सबसे अधिक कोरोना पॉजिटिव मामले सामने आए हैं. अब तक नालंदा, नालंदा, पटना, सीवान, बक्सर, रोहतास, कैमूर, गोपालगंज, बेगुसराय, गया, पूर्वी चंपारण, बांका, भागलपुर, अरवल, नवादा, सारण, औरंगाबाद, भोजपुर, वैशाली, लखीसराय, मधेपुरा, जहानाबाद, दरभंगा आदि में कोरोना पॉजिटिव की पुष्टि हो चुकी है.