पटना: पुलिस मुख्यालय की तरफ से C.I.D की टीम को गोपालगंज भेजा गया.







पटनागोपालगंज के रूपनचक में हुए ट्रिपल मर्डर के मामले का बिहार पुलिस मुख्यालय ने काफी गंभीरता से लिया है. मामले की असलियत जानने के लिए पुलिस मुख्यालय की तरफ से सीआईडी की टीम को गोपालगंज भेजा गया है. बुधवार को इसकी पुष्टि एडीजी हेडक्वार्टर जितेंद्र कुमार ने की है. दरअसल, 24 मई को अपराधियों ने राजद नेता जय प्रकाश यादव के घर पर धावा बोल दिया था. बैक टू बैक फायरिंग की गई थी. जिसमें जय प्रकाश यादव के साथ ही उनके पिता महेश चौधरी, मां रांकेतिया देवी और भाई शांतनु यादव को गोली मारी गई थी. इसमें मां—पिता की मौके पर ही मौत हो गई थी. जबकि इलाज के दौरान भाई शांतनु की मौत हॉस्पिटल में हो गई थी. हालांकि राजद नेता जय प्रकाश यादव का इलाज अब भी पटना के पीएमसीएच में चल रहा है.














जय प्रकाश यादव ने ट्रिपल मर्डर की वारदात में कुचायकोट से जदयू विधायक अमरेंद्र पांडेय उर्फ पप्पू पांडेय के शामिल होने का न सिर्फ आरोप लगाया, बल्कि विधायक और सतीश पांडेय, मुकेश पांडेय व एक अन्य के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराया. हालांकि शुरूआती जांच के दौरान ही पुलिस ने सतीश और मुकेश पांडेय को गिरफ्तार कर लिया था. इस केस की जांच चल ही रही थी कि 26 मई को गोपालगंज के रेपुरा में ही जदयू विधायक के रिश्तेदार शशिकांत तिवारी उर्फ मुन्ना तिवारी की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी. कहा जा रहा है कि इस वारदात को बदले की भावना सें अंजाम दिया गया. इस कारण इलाज करा रहे राजद नेता जय प्रकाश, परमेंदर यादव, मुन्ना यादव और मनु तिवारी को आरोपी बनाया गया. इस केस में मुन्ना यादव को गिरफ्तार किया गया है. एडीजी हेडक्वार्टर के अनुसार दोनों ही वारदात को बदले की भावना और पुरानी रंजिश की वजह से अंजाम दिया गया है.













अब आगे इस तरह की कोई वारदात न हो, इसका पूरा ध्यान रखा जा रहा है. पुलिस पूरी तरह से चौकस है. वारदात की असलियत क्या है? दोनों ही वारदातों में कौन—कौन लोग शामिल हैं? इसकी पड़ताल के लिए पटना से सीआईडी की टीम भेजी गई है. साथ में दोनों ही वारदातों में शामिल अपराधियों को पकड़ने के लिए एसटीएफ की टीम को लगाया गया है. सारण रेंज के डीआईजी की मॉनिटरिंग में पूरे केस की जांच चल रही है. हथुआ के एएसपी की अगुआई में एसआईटी का भी गठन किया गया है. निष्पक्ष रूप से दोनों ही मामलों की जांच चल रही है और सबूतों के आधार पर वारदात में शामिल अपराधियों को गिरफ्तार किया जाएगा.

Post a comment

0 Comments