समस्तीपुर सफूरा की रिहाई की मांग को लेकर ऐपवा के आंदोलन को मिला व्यापक समर्थन- प्रिति कुमारी।

अमरदीप नारायण प्रसाद।

आने वाले वक्त में औरतों की असहमति पर सफूरा की तरह ही होंगे हमले- सनोवर परवीन
समस्तीपुर नगर/धरमपुर, महिला अधिकार कार्यकर्ता प्रिति कुमारी ने सीएए विरोधी आंदोलन की नेत्री सफूरा जरगर की रिहाई की मांग को लेकर गुरुवार को ऐपवा द्वारा घोषित देशव्यापी विरोधी दिवस पर शहर में दर्जनों स्थान पर ऐपवा द्वारा धरना- प्रदर्शन को आमजनों ने समर्थन देकर लाकडाउन का पालन करते हुए अपने- अपने घरों में एकजुटता धरना दिया. इसमें अपने परिजनों के नेतृत्व में बच्चे- बच्चियों द्वारा बढ़ चढ़कर हिस्सा लिया गया. 
 शहर के धरमपुर में आधे दर्जन से अधिक स्थानों पर धरना देकर सफूरा जरगर की प्रिगनेंसी पर अश्लील टिप्पणी करने वाले भाजपा नेता कपील मिश्रा को गिरफ्तार करने एवं सीएए आंदोलन की नेत्री सफूरा सेमेत इशरत, गुलफिशा आदि को रिहा करने का मांग किया गया. कार्यकर्म में सकीबा जावेद, आयशा जावेद, जोहा फातमा, ओमैना जावेद, मरियम फातमा, आत्फा जावेद, अशबाह जमशेद, अब्दुल्ला जमशेद, मो० वकास जुबान आदि ने भाग लिया.
  मौके पर महिला अधिकार नेत्री शबनम एवं सनोवर परवीन ने कहा कि सफूरा की शादी, प्रीगनेंसी और उनके निजी जीवन पर भद्दे कमेंट यही बताते हैं कि आने वाले वक्त में भारत की औरतों से असहमति होने पर इसी तरीके से भाजपा और संघ द्वारा हमले किए जाएंगे.
    उन्होंने कहा कि राजनीति की आड़ में ये स्त्रीत्व पर हमला कर रहे हैं. ऐसी स्थिति में कोई छात्रा एवं औरत चाहे वे किसी भी पार्टी की समर्थक हो, उन्हें इसका विरोध करने के लिए आगे आना चाहिए.

Post a Comment

0 Comments