रियाज नायकू के एनकाउंटर से सदमे में हिजबुल चीफ सैयद सलाहुद्दीन, कहा- भारत का पलड़ा भारी

नई दिल्ली: भारतीय सेना की कार्रवाई के बाद हिजबुल मुजाहिदीन का मुखिया सैयद सलाहुद्दीन सदमे में आ गया है. कश्मीर घाटी में हिजबुल कमांडर रियाज नायकू के मारे जाने के बाद सलाहुद्दीन ने कहा कि भारत का पलड़ा भारी है. जनवरी से अब तक हमारे 80 आतंकी मारे गए हैं. सलाहुद्दीन ने कबूल किया है कि भारत के जवान आतंकियों के हर मंसूबे को नाकाम करने में सफल हुए हैं.

फ़ोटो (एबीपी न्यूज़)


तीन दिन पहले मारा गया था रियाज नायकू


तीन दिन पहले जम्मू कश्मीर में रियाज नायकू मारा गया था, नाइकू की मौत से आतंकियों हड़कंप मचा हुआ है. सलाहुद्दीन ने कहा कि हमारे पढ़े लिखे आतंकी मारे गए हैं. पाकिस्तान एक प्रार्थना सभा का आयोजन किया गया था जिसमें उसने ये बाते कही. उसने कहा, ''कल मारे गए अपने एक साथी के साथ इसमें शक नहीं कि हमको बहुत दिली सदमा हुआ लेकिन दोस्तों-बुजुर्गों ये मारे जाने का सिलसिला पहले दिन से चला आ रहा है. सिर्फ जनवरी 2020 से आज तक 80 मुजाहिदीन मारे गए हैं और सब के सब काफी पढ़े लिखे थे.


खुद सैयद सलाहुद्दीन भी खतरे में हो सकता है- रक्षा विशेषज्ञ


सलाहुद्दीन का वीडियो सामने आने के बाद रक्षा मामलों के जानकार जीडी बख्शी ने कहा कि भारत की नीति अब सिर्फ रक्षात्मक नहीं है. खुद सैयद सलाहुद्दीन भी खतरे में हो सकता है. उन्होंने कहा कि उरी की घटना के बाद पाकिस्तान पर सर्जिकल स्ट्राइक हुआ इसके बाद बालाकोट में भारत ने एयर स्ट्राइक को अंजाम दिया. इसके बाद पाकिस्तान करीब एक साल तक चुप रहा. वहीं डिफेंस एक्सपर्ट केके सिन्हा ने कहा कि बुरहान वानी के बाद हिजबुल का पूरा दारोमदार रियाज नायकू कंधे पर था. इसके मारे जाने के बाद से हिजबुल को बहुत बड़ा झटका लगा है.


इनपुट- एबीपी न्यूज़

Post a comment

0 Comments