दिल्ली: इलाज के बाद एम्स से डिस्चार्ज हुए पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह

नई दिल्ली: देश के पूर्व प्रधानमंत्री और वरिष्ठ कांग्रेस नेता डॉक्टर मनमोहन सिंह को इलाज के बाद दिल्ली के एम्स (अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान) से डिस्चार्ज कर दिया गया है. मनमोहन सिंह को डॉक्टरी सलाह पर AIIMS से डिस्चार्ज किया गया. बुखार और सीने में बेचैनी के कारण 87 साल के पूर्व प्रधानमंत्री को रविवार शाम 8 बजकर 45 मिनट पर अस्पताल में भर्ती कराया गया था



इलाज के दौरान मनमोहन सिंह की इस बात की भी जांच की गई कि कहीं वह कोरोना वायरस से संक्रमित तो नहीं हैं. लेकिन उनकी कोविड-19 की जांच रिपोर्ट नेगेटिव आई. वह नीतीश नायक की निगरानी में थे. साल 2009 में सिंह की एम्स में एक सफल कोरोनरी बायपास सर्जरी हुई थी. यह एक जटिल ऑपरेशन था, जिसमें लगभग 14 घंटे लगे थे.


मनमोहन सिंह साल 2004 से 20014 तक देश के प्रधानमंत्री रहे हैं. 1991 में पीवी नरसिम्हा राव की सरकार में वित्त मंत्रालय की जिम्मेदारी भी संभाल चुके हैं. उनकी पहचान जाने-माने अर्थशास्त्री के रूप में है. वे रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया के गवर्नर भी रह चुके हैं. डॉक्टर मनमोहन सिंह वर्तमान में राज्य सभा सांसद हैं.

मनमोहन सिंह साल 2004 से 20014 तक देश के प्रधानमंत्री रहे हैं. 1991 में पीवी नरसिम्हा राव की सरकार में वित्त मंत्रालय की जिम्मेदारी भी संभाल चुके हैं. उनकी पहचान जाने-माने अर्थशास्त्री के रूप में है. वे रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया के गवर्नर भी रह चुके हैं. डॉक्टर मनमोहन सिंह वर्तमान में राज्य सभा सांसद हैं.

Post a comment

0 Comments